उप्र के गरीब छात्रों के लिए अभ्युदय योजना लांच, बसंत पंचमी से शुभारंभ

उत्तर प्रदेश

डॉ. दिलीप अग्निहोत्री

लखनऊ। भारतीय संस्कृति में बसन्त पंचमी को  विद्यारंभ होता है। मुख्यमंत्री द्वारा लांच अभ्युदय के माध्यम से भी बसन्त पंचमी से गरीब अभ्यर्थियों की कोचिंग प्रारंभ होगी।

उत्तर प्रदेश सरकार गरीबों की सहायता के लिए अनेक योजनाओं का क्रियान्वयन कर रही है। इसके माध्यम से उनके जीवन स्तर उठाने का प्रयास किया जा रहा है। इसमें निर्धन आवास शौचालय,बिजली कनेक्शन,एलपीजी गैस सिलेंडर, आयुष्मान आदि योजनाएं उल्लेखनीय रूप से संचालित है। इसी क्रम में योगी आदित्यनाथ ने गरीब प्रतियोगी छात्र छात्राओं को बसन्त पंचमी की पूर्व संध्या पर तोहफा दिया।

 प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने वाले उत्तर प्रदेश के अभ्यर्थियों को अभ्युदय के माध्यम से मुफ्त में कोचिंग की सुविधा उपलब्ध होगी। योगी आदित्यनाथ ने  Abhyudaya Yojana लॉन्च कर दी है। इस योजना के तहत अब पूरे राज्य में मुफ्त में कोचिंग देने वाले सेंटर्स स्थापित किए जाएंगे। इस योजना के माध्यम से प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने वाले गरीब अभ्यर्थियों को निशुल्क कोचिंग मिल सकेगी।

निःशुल्क कोचिंग लेने के लिए रजिस्ट्रेशन कराने वाले छात्रों से योगी आदित्यनाथ ने संवाद भी किया। योगी आदित्यनाथ ने कहा कि इस अभ्युदय का विचार लॉकडाउन के दौरान आया था। तब वहां गए छात्रों की परेशानी देखकर उन्हें लगा कि उत्तर प्रदेश में भी कोटा जैसे कोचिंग सेंटर स्थापित किए जाने चाहिए। इसकी तैयारी तभी शुरू हो गई थी। अब इसका शुभारंभ किया जा रहा है। अभ्युदय योजना में प्रदेश में बसन्त पंचमी से कक्षाएं शुरू होंगी।

जिन युवाओं का संक्षिप्त टेस्ट से सेलेक्शन हुआ है उन्हें मंडल मुख्यालय में कोचिंग की सुविधा मिलेगी। पहले चरण में पचास हजार अभ्यर्थियों का चयन किया गया है।भविष्य में सभी प्रतियोगी परीक्षाओं को इसके साथ जोड़ेंगे। शुरुआत में कुछ ही परीक्षाएं होंगी लेकिन धीरे धीरे हम इसकी बधाई जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.