विश्वस्तरीय बनेगा उप्र का तीर्थस्थल

उत्तर प्रदेश

डॉ दिलीप अग्निहोत्री

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ उत्तर प्रदेश के तीर्थ स्थलों को विश्व स्तरीय बनाने की दिशा में कार्य कर रहे हैं।उनका प्रयास रहता है कि यहां पहुंचने वालों की किसी प्रकार की असुविधा का सामना ना करना पड़े। इसके दृष्टिगत इन स्थलों पर ढांचागत निर्माण कराया जा रहा है।

योगी आदित्यनाथ में मथुरा वृंदावन यात्रा के दौरान भी अधिकारियों को समय से विकास कार्य पूर्ण करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि ब्रज चौरासी कोसी परिक्रमा में पड़ने वाले सात महत्वपूर्ण स्थानों पर धार्मिक फिल्मों का प्रदर्शन किया जाए। जिससे पर्यटकों की धार्मिकता के प्रति आस्था बढे़। उन्होंने वृन्दावन में प्रेक्षा गृह ऑडिटोरियम मुक्ता काशी रंगमंच आदि को तेजी से पूर्ण कराने के निर्देश दिए। कहा कि चौरासी कोसी परिक्रमा का जो क्षेत्र हरियाणा राज्य में आता है,उसके सम्बन्ध में हरियाणा राज्य के मुख्यमंत्री से चर्चा की जा चुकी है। वहां कराए जाने वाले कार्यों की भी शीघ्र डीपीआर तैयार करायी जाए।


 स्वयं सहायता समूह
प्रदेश सरकार महिला स्वयं सहायता समूहों को भी रोजगार के अवसर प्रदान कर रही है। इसके लिए कई प्रकार के कार्य उनके माध्यम से सम्पन्न कराए जा रहे है। योगी आदित्यनाथ ने कहा कि मन्दिरों में चढ़ाये जाने वाले पुष्प आदि से निर्मित अगरबत्ती धूपबत्ती जैसी सामग्री का उत्पादन करने के लिए महिला स्वयं सहायता समूहों को इस कार्य से जोड़ा जाए। जिससे उनकी आय बढ़ सके और यह ब्रज का यह पावन क्षेत्र स्वच्छ रहे। ब्रज क्षेत्र में खारे पानी की समस्या से निजात दिलाने के लिए कुण्डों के जीर्णोद्धार की आवश्यकता है। उन्होंने अधिकारियों को इस सम्बन्ध में प्रभावी कार्यवाही करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि ब्रज क्षेत्र में गायन कला में सम्भावनाओं से युक्त प्रतिभाएं प्रायः सामने आती हैं,ऐसी प्रतिभाओं को प्रशिक्षित किया जाए,जिससे उन्हें आगे बढ़ने का अवसर मिले। उन्होंने महिला थाने को पर्यटन थाने के रूप में विकसित करने के निर्देश भी दिए।


कृष्णा थीम पार्क
मुख्यमंत्री ने कृष्णा थीम पार्क को तीर्थ विकास परिषद को दिए जाने तथा बड़ी परिक्रमा के अवसर पर बरसाना में होली का कार्यक्रम आयोजित करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि फुटपाथ पर लगने वाली दुकानों को व्यवस्थित करने के लिए प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना के तहत उनका पंजीकरण कराकर बैंकों से ऋण उपलब्ध कराया जाए, जिससे पटरी दुकानदारों का जीवन स्तर बेहतर हो। उन्होंने कहा कि पटरी दुकानदारों की दुकानों के व्यवस्थित होने से मार्गों पर जाम आदि की समस्याएं समाप्त होंगी। उन्होंने हाथ रिक्शा चलाने वाले रिक्शा चालकों को ई-रिक्शा दिलाने के साथ-साथ उनकी पार्किंग और रूट की योजना बनाए जाने के निर्देश दिए। उन्होंने कृष्णा कुटीर में निराश्रित महिला एवं अनाथ बच्चों के लिए सभी आवश्यक सुविधाएं उपलब्ध कराने के निर्देश भी दिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.