जिलेबी ना फाफडा, उद्धव ठाकरे आपडा

राजनीति

शिवसेना का गुजराती जोड़ो अभियान


विजय यादव/न्यूज़ स्टैंड18 मुंबई। जिलेबी ना फाफडा, उद्धव ठाकरे आपडा… नारे के साथ शिवसेना ने गुजराती जोड़ो अभियान की शुरुआत कर भाजपा के वोट बैंक में को तोड़ने की तैयारी कर दी है। रविवार को शिवसेना के राष्ट्रीय संघटक हेमराज शाह ने 9 गुजराती उद्योगपतियों को शिवसेना में शामिल कर आगामी मनपा चुनाव की तैयारी शुरू कर दी है। इस मौके पर शिवसेना की नगरसेविका राजुल पटेल भी उपस्थित रहीं। शिवसेना में शामिल होने वाले कारोबारियों मे कल्पेश मेहता, जयेश सोलंकी, उमेश जोशी, अनिकेत मेहता, राकेश शाह, अतुल शाह, हितेश मेहता, अशोक भोजक व किसन ढाकानी हैं। शिवसेना का यह गुजराती जोड़ो अभियान अगले एक साल तक चलेगा। इसके लिए जगह – जगह कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा। शिवसेना ने इस तरह भाजपा को मनपा चुनाव में मात देने की पूरी तैयारी कर ली है। नोट बंदी और जीएसटी से गुजराती समाज के कारोबारियों को खूब नुकसान हुआ है। उनकी इसी नाराजगी को हथियार बना कर शिवसेना से जोड़ने की मुहिम वाकई कारागार हो सकती है। शिवसेना हर हाल में मनपा पर अपना कब्जा बनाते रखना चाहती है। राज्य सरकार में शामिल कांग्रेस और राकांपा क्या मनपा चुनाव शिवसेना के साथ मिलकर लड़ेगी अभी इस पर असमंजस बरकरार है। ऐसे भी अब कांग्रेस मुंबई में कमजोर हो चुकी है। कांग्रेस का एक बड़ा वोट बैंक भाजपा में जा चुका है। इसमें हिंदी भाषियों का एक बड़ा वर्ग शामिल है। कुछ पुराने कांग्रेसियों को उम्मीद थी कि किसी उत्तर भारतीय को मुंबई अध्यक्ष बना कर कांग्रेस नुकसान की भरपाई कर सकती थी। भाई जगताप को अध्यक्ष बना कर इस रास्ते को भी कांग्रेस ने बंद कर दिया है। ऐसे भाई जगताप कांग्रेस मजबूत नेताओं में से एक हैं, लेकिन हिंदी भाषियों में इनकी पकड़ कमजोर है। इन्हीं सब बातों को ध्यान में रख शिवसेना गुजराती कार्ड खेल दी है।  

Leave a Reply

Your email address will not be published.