सपा नेता आजमी के भाषण की जांच हो – अतुल भातखलकर

राजनीति
विजय यादव/न्यूज़ स्टैंड18
मुंबई। भारतीय जनता पार्टी के मुंबई विधायक अतुल भातखलकर ने सपा नेता व विधायक अबू आजमी के आजाद मैदान में दिए गए भाषण की जांच कराने की मांग केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह से की है।
भाजपा विधायक का आरोप है कि अबू आजमी ने आजाद मैदान में किसानों की सभा में भड़काऊ भाषण दिया था। गणतंत्र दिवस पर दिल्ली में हुई हिंसा के पीछे इसका क्या संबंध है। उन्होंने अमित शाह को भेजे अपने पत्र की जानकारी ट्विटर पर दी है।
पत्र में उन्होंने लिखा है कि किसान आंदोलन की आड़ में दिल्ली में हुए दंगे के लिए लोगों को भड़काने वाले अबू आजमी और उसके पीछे के असली मास्टरमाइंड की जांच हो।
उन्होंने कहा है कि भारत के
कृषि क्षेत्र में क्रांतीकारी बदलाव के लिए केंद्र सरकार ने तीन किसान कानून पारित किया है। किंतु विरोधी दल राजनैतिक रोटीयाँ सेंकने के लिए देश के किसानो को गुमराह करने और दंगे भड़काने का काम कर रही है।
इसी विषय पर मुंबई के आजाद मैदान में 25 जनवरी को किसान आंदोलन का आयोजन किया गया था। इस आंदोलन के मंच पर राष्ट्रवादी के नेता शरद पवार, कॉंग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष बाळासाहेब थोरात सहित महाराष्ट्र के विविध नेता उपस्थित थे।
इस आंदोलन को संबोधित करते समय समाजवादी पार्टी के विधायक अबू आजमी ने अत्यंत भड़काऊ भाषण दिया था। उन्होंने लोगों को घर से बाहर निकलकर कोहराम मचाने का आवाहन किया था, इसके साथ ही ‘मोदीजी तुम्हे यह हवा जलाकर राख कर देगी’, ‘मोदीजी तुम खत्म हो जाओगे’ ऐसी धमकियां भी दी है।
किसान आंदोलन के इस मंच से राजनैतिक भाषण देकर लोगों को भड़काने का काम अबू आजमी ने किया था। अबु आजमी की ओर से दिए हुए इस भड़काऊ भाषण के दुसरे ही दिन 26 जनवरी को दिल्ली में किसान आंदोलन हुआ। लाल किले में खलिस्तानी झंडा फहराने जैसी देशविरोधी घटना को अंजाम दिया गया है। दिल्ली में घटी इस घटना की जांच की प्रक्रिया में दंगा करने लिए लोगों को भड़काने वाले अबू आजमी की भी जांच कराने की आवश्यकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.