सांसद गोपाल शेट्टी द्वारा भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेई की पूर्णाकृति प्रतिमा कार्यक्रम संपन्न

मुंबई

मुंबई। उत्तर मुंबई के कांदिवली पूर्व में उत्तर मुंबई सांसद गोपाल शेट्टी के प्रयत्नों से क्रीड़ा संकुल को पूर्व प्रधानमंत्री भारतरत्न श्री अटल बिहारी वाजपेई का नाम दिया गया है। अब इसी क्रीड़ा संकुल में कविहृदय भारतरत्न श्री अटल बिहारी वाजपेई की पूर्णाकृति प्रतिमा स्थापित करने हेतु पूर्ण तैयारियां हो चुकी थी। सर्व अनुमति पत्र, सर्व नियमावली, राजकीय शिष्टाचार को मानते हुए सांसद गोपाल शेट्टी व पूर्ण भाजपा टीम आदरणीय विधायकगण लगातार राज्य सरकार और मंत्री महोदय सुनील केदार के संपर्क में थे। परंतु जैसा कविहृदय अटल बिहारी ने अपनी सुंदर रचना में कहा है; “छोटे मन से कोई बड़ा नहीं हो सकता” बस इन्ही शब्दो की तरह महाराष्ट्र राज्य की महा विकास आघाड़ी सरकार ने 24 दिसंबर अर्थात कार्यक्रम के एक दिवस पूर्व भारतरत्न श्री अटल बिहारी वाजपेई की पूर्णाकृति प्रतिमा के अनावरण की अनुमति नहीं दी।
उत्तर मुंबई भाजपा प्रचार प्रमुख नीला सोनी राठोड़ ने बताया कि, 25 दिसंबर शनिवार को उत्तर मुंबई के कांदिवली पूर्व में पूर्व द्रुत गति महामार्ग (ईस्टर्न एक्सप्रेस हाई वे) पर श्री अटल बिहारी बाजपेई उत्कृष्टता केंद्र में देश के पूर्व प्रधानमंत्री श्री अटल बिहारी वाजपेई की जन्मजयंती का कार्यक्रम संपन्न हुआ। 32 एकड़ के भूखंड पर इस स्थान का सौंदर्यकरण एवम् भव्य चबूतरे का निर्माण सांसद गोपाल शेट्टी के सांसद निधि से हुआ है । इस वास्तु का उद्घाटन समारोह आयोजित किया गया। प्रतिमा आज नही तो कल स्थापित होनी है, महाविकास आघाड़ी की छोटी सच का पर्दाफाश हुआ है।
सांसद गोपाल शेट्टी द्वारा निर्मित इस भव्य वास्तु का उद्घाटन भाजपा मुंबई अध्यक्ष विधायक मंगल प्रभात लोढ़ा के वरद हस्तो से हुआ । इस अवसर पर सांसद गोपाल शेट्टी भारतरत्न श्री अटल बिहारी वाजपेई की पूर्णाकृति प्रतिमा निर्माण हेतु किए गए सारे नियमावलीके पालन का उल्लेख किया। और संघर्ष के लिए तैयार रहते हुए कहा की जब तक प्रतिमा स्थापित नही हो जाती वे कोईभी सत्कार का स्वीकार नहीं करेंगे। इसके पश्चात मुंबई भाजपा अध्यक्ष मंगल प्रभात लोढ़ा ने भी अपने वक्तव्य में जब तक प्रतिमा निर्माण नही होती तब तक कोई भी स्वागत सत्कार नही लेने की घोषणा की। लोढ़ा ने कहा की, “अजात शत्रु ऐसे भारतरत्न श्री अटल बिहारी वाजपेई जी के संदर्भ में इतने छोटे दिल से सोचने वाले महाराष्ट्र राज्य सरकार के सत्ताधारी लोग हैं”
विधायिका मनीषा ताई चौधरी ने कहा की, विधायिका के नाते महाविकास आघाड़ी के मंत्री सुनील केदार से बारंबार हमने बात की परंतु अंतिम दिन अनुमति न देकर अपनी छोटी मानसिकता और बैर भाव का परिचय दिया है।
विधायक सुनील राणे, विधायक योगेश सागर विधानपरिषद में मुख्य प्रतोद वि.भाई गिरकर सभी नेताओं ने अपने अपने वक्तव्य में महाविकास आघाड़ी की सोच के प्रति अपना आक्रोश व्यक्त किया।
स्थानिक विधायक और मुंबई भाजपा प्रभारी अतुल भातखलकर ने कहा की “महाविकास आघाड़ी ने समझना होगा कि कोई भी रेड सिग्नल कुछ ही क्षणों में ग्रीन होता है, अतः आज आपने अनुमति न देकर जो पाप किया है वह मुंबई की जनता भूलेगी नहीं, भारत रत्न श्री अटल बिहारी वाजपेई जैसे अजातशत्रु नेता की प्रतिमा तो कल सारी कानूनी कार्रवाई और अनुमति के पश्चात स्थापित हो जायेगी। परंतु आपका पुण्य कमाने का अवसर आपने गंवा दिया है।”
इस अवसर पर निखिल व्यास द्वारा तैयार की गई सांसद गोपाल शेट्टी की कल्पकता से बने तमाम प्रकल्पों की एक दस्तावेजी फिल्म भी दिखाई गई।
एड.जयप्रकाश मिश्रा द्वारा प्रतिमा स्थान की सर्व नियमावली के पालन का ब्यौरा दिया गया और अटल जी के भावुक प्रसंगों की बात कही गई।
सां.गोपाल शेट्टी ने अपने वक्तव्य में अत्यंत महत्वपूर्ण ऐसे तथ्यों की बात कही। 2004 से इस क्रीड़ा संकुल को क्रीड़ा के लिए ही रखा जाए इसके लिए स्वयं प्रयत्नशील होने की पूर्ण जानकारी उपस्थित जनता को दी। तत्पश्चात 2014 से संकुल का नामकरण,पूर्णाकृति प्रतिमा का निर्माण के संकल्पना का विवरण दिया। छह दिवस भिन्न भिन्न कार्यक्रमों के द्वारा चलने वाले अटल महोत्सव में प्रथम दिवस पर निशा परुलेकर द्वारा अयोजित टेनिस ओवरआर्म क्रिकेट टीम के खिलाड़ियों का विशेष सत्कार भाजपा मुंबई अध्यक्ष विधायक मंगल प्रभात लोढ़ा, सांसद गोपाल शेट्टी और सर्व मान्यवरों के हस्ते किया गया। भारतरत्न अटल बिहारी वाजपेई के साथ रहे मित्र प्रदीप जैन, सारेगामा स्पर्धा की विजेता कु.गौरी गोसावि, उत्तर मुंबई भाजपा अध्यक्ष गणेश खनकर, महामंत्री बाबा सिंह, दिलिप पंडित, निखिल व्यास, मुंबई उपाध्यक्ष और इस कार्यक्रम की अनुमति हेतु अथक प्रयास करनेवाले युनुस खान इत्यादि मान्यवर का विशेष स्वागत सत्कार मुंबई भाजपा अध्यक्ष मंगल प्रभात लोढ़ा व सांसद गोपाल शेट्टी के वरद हस्त से किया गया।
इस अटल महोत्सव के प्रथम दिवस कार्यक्रम में महाराष्ट्र पदाधिकारी जयप्रकाश ठाकुर, रघुनाथ कुलकर्णी, विधायकगण सर्वश्री अतूल भातखळकर, प्रतोदभाई गिरकर, योगेश सागर, मनीषा ताई चौधरी,सुनील राणे, एड. जयप्रकाश मिश्रा, आर. यू. सिंह, विनोद शेलार, डॉ. योगेश दुबे, नगरसेवक मनपा भाजपा उपनेता कमलेश यादव, रानी द्विवेदी, योगेश वर्मा, गंगाराम जमनानी, प्रभाग समिति अध्यक्ष लीना देहेरकर, महिला अध्यक्ष योगिता पाटिल, सर्व नगरसेवक नगरसेविका व अनेक मान्यवर उपस्थित रहे। इस वास्तु को निर्माण करने हेतु दिवस रात अथक परिश्रम करने वाले श्री नितिन प्रधान ने प्रतिमा स्थापित न होने तक कोई भी सत्कार लेने से इंकार किया था।
कु.गौरी गोसवी के द्वारा वन्देमातरम गान से कार्यक्रम का समापन हुआ।
कार्यक्रम का सूत्र संचालन दिलीप पंडित ने किया। और प्रस्तावना गणेश खणकर ने की।

Leave a Reply

Your email address will not be published.