तेलंगाना में TRS के 4 विधायक बिकने से बचे, भाजपा के खिलाफ प्रदर्शन

समाचार

साइबराबाद (तेलंगाना)। तेलंगाना राष्ट्र समिति (TRS) के 4 विधायकों की खरीद फरोख्त के खुलासे के बाद TRS कार्यकर्ताओं ने जगह जगह भाजपा के विरोध में प्रदर्शन किया। कुछ जगहों पर पार्टी कार्यकर्ताओं ने BJP का पुतला भी जलाया।
तेलंगाना पुलिस ने खुलासा किया है कि, तेलंगाना राष्ट्र समिति (TRS) के 4 विधायकों को खरीदने की जा रही थी। यह दावा साइबराबाद पुलिस ने किया है। पुलिस के अनुशार एक फार्महाउस की तलाशी के दौरान 3 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। गिरफ्तार तीनों KCR की पार्टी TRS के विधायकों को खरीदने फार्महाउस आए थे। इन लोगों के पास से नकदी और चेक भी मिले हैं।
TRS ने इस मामले में भारतीय जनता पार्टी को दोषी ठहराया है। पार्टी के प्रवक्ता कृष्णक ने कहा कि KCR के विधायक बिकने वाले नहीं है। TRS के जिन विधायकों को खरीदने की कोशिश की गई, उनमें गुववाला बलाराजू, बीरम हर्षवर्धन, पायलट रोहित रेड्डी, रेगा कंथाराव शामिल हैं।
साइबराबाद पुलिस कमिश्नर स्टीफन रवींद्र ने बताया कि हमें TRS के विधायकों ने ही खरीद-फरोख्त होने की जानकारी दी थी। हमने अजीज नगर के एक फार्म हाउस पर छापेमारी की तो हमें नकदी और चेक बरामद हुए। कमिश्नर ने आगे कहा कि विधायकों को खरीदने के लिए 100 करोड़ रुपए या उससे अधिक की डील हो सकती थी।
इस पूरे मामले को लेकर TRS के सोशल मीडिया संयोजक सतीश रेड्डी ने ट्विटर पर वीडियो शेयर किया है। इसमें होटल व्यवसायी नंदू दिख रहे हैं। नंदू पर ही विधायकों को खरीदने के आरोप लगे हैं। सतीश रेड्डी ने नंदू की केंद्रीय मंत्री किशन रेड्डी के साथ फोटो शेयर करते हुए कहा कि ये भाजपा के करीबी हैं।

सतीश रेड्डी ने आगे कहा कि BJP ने कुछ दिन पहले विधायकों को खरीदने के संकेत दिए थे और आज उनकी टीम रंगे हाथों पकड़ी गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published.