Andheri by poll: उद्धव बोले धनुष-बाण नही है तो मशाल लेकर आगे बढ़ते रहो…

मुंबई राजनीति

मुंबई। शिवसेना में बगावत के बाद राज्य की राजनीति में हलचल मच गई और एकनाथ शिंदे और देवेंद्र फडणवीस के नेतृत्व में एक नई सरकार अस्तित्व में आई। इसके बाद शिवसेना के नाम और धनुष-बाण के प्रतीक पर भी बागी गुट ने दावा किया। हालांकि चुनाव आयोग ने इन दोनों बातों पर रोक लगा दी है, इसलिए ठाकरे समूह और शिंदे समूह के बीच आरोप-प्रत्यारोप की राजनीति देखी जा सकती है।
अंधेरी विधानसभा उपचुनाव के मद्देनजर ठाकरे गुट भी भाजपा को निशाना बना रहा है। ‘मातोश्री’ पर बुलढाणा में शिवसेना कार्यकर्ताओं और अधिकारियों से बात करते हुए उद्धव ठाकरे ने अंधेरी चुनाव को लेकर बीजेपी की आलोचना की है। उन्होंने यह भी विश्वास व्यक्त किया कि पार्टी का नाम और चिन्ह वापस कर दिया जाएगा।
भले ही धनुष बाण नही है, आप हाथ में मशाल लेकर आगे बढ़ते रहे। प्रत्येक चिन्ह का एक महत्व होता है। राम ने अपने धनुष और बाण से रावण का वध किया। यह एक मशाल है जो अन्याय को जलाती है और अंधेरे का मार्गदर्शन करती है। चुनाव आयोग ने कुछ समय के लिए यह आदेश दिया है। बाद में हमें अपना नाम और चुनाव चिन्ह आदि मिल जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.