Ankita Singh: अंकिता सिंह हत्याकांड के आरोपी शाहरुख की मुश्किलें बढ़ी, जाने ताजा जानकारी…

समाचार

रांची। अंकिता सिंह की हत्या करने वाले शाहरुख की मुश्किलें बढ़ गई हैं। अब उसका बच पाना मुश्किल होगा। बाल कल्याण समिति (CWC) ने कहा कि अंकिता सिंह नाबालिग थी, इसलिए शाहरुख पर POCSO की धाराएं लगेंगी। 10वीं की बोर्ड परीक्षा की मार्कशीट के अनुसार अंकिता सिंह की उम्र लगभग 16 साल थी।
रांची, झारखंड (Jharkhand) सहित पूरे देश में दुमका (dumka) की बेटी अंकिता सिंह की मौत पर हंगामा मचा हुआ है। मौत से ठीक पहले अंकिता के बयान का एक वीडियो (video) सामने आया, जिसमें उसने इस घटना की आपबीती बताई। वीडियो में अंकिता ने कहा कि आरोपी शाहरूख (shahrukh) सुबह पांच बजे मुझे मारने पेट्रोल का केन लेकर मेरे घर आया था।
वीडियो में वह आगे कहती है, सोमवार रात को हमने पापा को शाहरुख के बारे में बताया था। पापा ने कहा कि सुबह देखते हैं, लेकिन सुबह वह खिड़की से हम पर पेट्रोल डालकर आग लगाकर भाग गया। शाहरुख के साथ उसका दोस्त छोटू खान भी था। हमने खिड़की से दोनों को भागते देखा था। अंकिता ने बताया, ‘मैं सिर्फ यही देख पाई कि ब्लू टीशर्ट पहने, हाथ में पेट्रोल की कैन लिए शाहरुख भाग रहा था।
शाहरुख को इलाके में आवारा किस्म के लड़के के रूप में लोग जानते हैं। अंकिता ने अपने अंतिम बयान में कहा है कि, जब भी मैं स्कूल या ट्यूशन के लिए जाती, वह मेरा पीछा करता. हालांकि, मैंने कभी उसकी हरकतों को सीरियसली नहीं लिया, लेकिन उसने कहीं से मेरा मोबाइल नंबर ले लिया था। उसके बाद अक्सर मुझे फोन करके मुझसे दोस्ती करने का दबाव बनाने लगा। अंकिता के शव को दादा अनिल सिंह ने मुखाग्नि दी। अंकिता की अंतिम यात्रा में दुमका से बीजेपी सांसद सुनील सोरेन, उप विकास आयुक्त कर्ण सत्यार्थी, डीएसपी विजयकुमार सहित कई प्रशासनिक अधिकारी और हिन्दू समर्थित विभिन्न संगठनों के कार्यकर्ता और आम लोग शामिल हुए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.