भायंदर में माहेश्वरी मण्डल का अन्नकूट महोत्सव एवं प्रतिभा सम्मान समारोह

मुंबई

न्यूज स्टैंड18 नेटवर्क
मुंबई।
माहेश्वरी मण्डल के तत्वावधान में रविवार को भायंदर (पश्चिम) स्थित पपैया ग्राउंड में दीपावली स्नेह सम्मेलन, अन्नकूट महोत्सव एवं प्रतिभा सम्मान समारोह आयोजित किया गया।
समारोह में आने वाले हरेक व्यक्ति का तिलक लगाकर स्वागत किया गया। मण्डल कोषाध्यक्ष सुरेश दरक के अनुसार भगवान महेश की पूजा अर्चना के साथ शुरू हुए इस कार्यक्रम में माहेश्वरी समाज के कुल 81 मेधावी/प्रतिभावान छात्र-छात्राओं को पारितोषिक वितरण के साथ ही साथ एसएससी, एचएससी, स्नातक और परास्नातक विधार्थियों का सम्मान प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया। एसएससी में सर्वाधिक अंक प्राप्त करने वाले विधार्थियों को स्वर्ण व रजत पदक देकर सम्मानित किया गया।
इस बार कार्यक्रम की थीम सनातन हिन्दू संस्कृति की रक्षा व संवर्धन कार्यक्रम का मुख्य आकर्षण बिन्दु था, जिसमें तकरीबन 100 बच्चों द्वारा सनातन हिन्दू संस्कृति की जनजागृति लाने के लिए श्रीमद भगवद्गीता का पाठ किया गया। खेलकूद में बच्चों को प्रेरित करने सम्बंधित, रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम की प्रस्तुत दी गयी। श्रीनाथजी को अर्पित अन्नकूट व छप्पन भोग के दिव्य दर्शन, सांस्कृतिक कार्यक्रम में समाज के नन्हे कलाकारों द्वारा सभी देवी-देवताओं की झांकी के माध्यम से अपने सनातन हिन्दू संस्कृति एवं कार्यक्रम बारे में बताया। कार्यक्रम स्थल में जगह-जगह पर गीताजी के श्लोक, भगवान महेश की वंदना एवं अन्य जनजागृति संदेश के बैनर लगाये गये।
इस कार्यक्रम में अतिथि विशेष के रूप में मीरा भायन्दर महानगरपालिका के आयुक्त दिलीप ढोले, भाजपा महाराष्ट्र प्रदेश अध्यक्ष चंद्रशेखर बावनकुले, प्रदेश महामंत्री विक्रम दादा पाटिल और स्थानीय विधायक श्रीमती गीता जैन, भाजपा जिला अध्यक्ष रवि व्यास का स्वागत का स्वागत संस्था के अध्यक्ष नटवर डागा व न्यास मण्डल के अध्यक्ष मदनलाल भूतड़ा, संस्था के सचिव व न्यास मण्डल के कोषाध्यक्ष नारायण तोषनीवाल, महिला समिति अध्यक्षा श्रीमती मंजू मालपानी व सचिव श्रीमती सुधा काकानी तथा युवा समिति अध्यक्ष संजीव जाखोटिया व सचिव पवन बाहेती ने फल की टोकरी देकर किया। इस अवसर पर नगरसेवक सुरेश खण्डेलवाल, नगरसेवक डॉक्टर सुशील अग्रवाल, दरोगा पाण्डे, उद्योगपति व समाजसेवी अमरचन्द रांदड़ सहित कई गणमान्य अतिथि उपस्थित थे। कार्यक्रम संयोजक धरमचन्द माहेश्वरी ने बताया सायं 6.15 बजे से रात 10 बजे तक चले इस समारोह में तकरीबन 2200 लोगों ने भाग लिया। कार्यक्रम के अंत में महाप्रसाद की व्यवस्था की गई थी। नारायण तोषनीवाल ने इस कार्यक्रम को सफल बनाने पर सभी लोंगो के प्रति आभार प्रकट किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.