माथाडी यूनियन की जबरन उगाही के खिलाफ भारत मर्चेंट चेंबर ने उठाई आवाज, बोर्ड चेयरमैन सुनीता म्हैसकर को दिया ज्ञापन

मुंबई

न्यूज स्टैंड18 नेटवर्क
मुंबई।
भारत मर्चेंट्स चेम्बर का एक प्रतिनिधि मंडल ट्रस्टी राजीव सिंगल के नेतृत्व में सम्माननीय मंत्री निलेश वैश्य, अजय सिंघानिया व सदस्य नवीन बगड़िया के साथ कपड़ा बाजार माथाडी बोर्ड चेयरमैन श्रीमती सुनीता म्हैसकर से मिलकर एक ज्ञापन दिया व कपड़ा बाजार में बोर्ड के नाम पर की जा रही ग़ैर क़ानूनी उगाही का मुद्दा उठाया।
ट्रस्टी श्री सिंगल ने बताया कि किस तरह से बाज़ार में पिछले कुछ महीने से माथाडी यूनियन के लोग व्यापारियों से बोर्ड के नाम पर पैसा वसूल रहे हैं और उन्होंने एक भय का माहौल बना दिया है। ऐसे व्यापारी जो कमीशन एजेंट का काम करते हैं अथवा जिनके यहाँ कोई कपड़े की आवक जावक नहीं होती उनको भी बोर्ड में रजिस्टर करने के नाम पर दबाव बना रहे है जो पूरी तरह गैर क़ानूनी है।
नवीन बगड़िया ने कहा कि यूनियन के लोग हमारे अकाउंट देखना चाहते हैं जिसका उन्हें अधिकार ही नहीं है। निलेश वैश्य व अजय सिंघानिया ने बताया कि मुक़ादम शाम 6 -7 बजे के बाद गाँठ ट्रांसपोर्ट में नहीं ले जाना चाहते हैं, जिससे माल व्यापारी को देरी से मिलता है। बोर्ड अध्यक्ष ने भारत मर्चेंट्स चेम्बर के प्रतिनिधि मंडल की बात ध्यान से सुनने के बाद तुरंत 52 यूनियन को एक एडवाइजरी जारी करने का निर्देश बोर्ड इंस्पेक्टर को दिया। इसके साथ ही व्यापारियों को भी आवाहन किया कि वो बोर्ड के नाम पर पैसा माँगने पर तुरंत पुलिस में शिकायत करे और पुलिस शिकायत की कॉपी चेम्बर के मार्फ़त बोर्ड को भेजने को कहा। जिससे इस पर अंकुश लगाया जा सके। प्रतिनिधि मंडल ने बोर्ड अध्यक्ष को बताया कि मुंबई का कपड़ा बाज़ार पड़ोसी राज्यों में पलायन हो रहा है। सुश्री महेसकर ने सभी व्यापारियों को भी रजिस्टर्ड मुक़ादम से ही माल भेजने का निवेदन किया। इस अवसर पर बोर्ड के दोनों इंस्पेक्टर अनिल नानोंसकर व सूर्यकांत भी उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.