BMC election 2022: मुंबई मनपा चुनाव फरवरी-मार्च में होने की संभावना

मुंबई

न्यूज स्टैंड18 डेस्क
मुंबई।
नगर विकास विभाग ने मंगलवार को प्रदेश के सभी नगर आयुक्तों को वार्डों की संख्या और संरचना निर्धारित करने का काम तत्काल शुरू करने का आदेश दिया। अगले साल फरवरी-मार्च में महानगर पालिका चुनाव होने की संभावना जताई जा रही है।
महाविकास अघाड़ी सरकार के दौरान नगर पालिकाओं में वार्ड गठन के अधिकार राज्य सरकार ने अपने हाथ में ले लिए थे। मध्य प्रदेश की तर्ज पर प्रदेश में कानून बनाया गया। शिंदे-फडणवीस सरकार ने सत्ता परिवर्तन के बाद महा विकास अघाड़ी सरकार के दौरान तय वार्डों की संख्या और ढांचे में बदलाव का फैसला लिया था। हालांकि वार्डों की संख्या कम करने के फैसले को अदालत में चुनौती दी गई थी, लेकिन कोई स्थगन आदेश नहीं दिया गया था। इसीलिए राज्य सरकार ने सभी महा नगर पालिकाओं को आदेश दिया है कि वे अपने अधिकारों का प्रयोग कर वार्डों की संख्या और संरचना फिर से करें।
राज्य के 28 में से 24 महा नगर पालिका में चुनाव होंगे। नगर विकास विभाग ने सभी नगर निगमों को आदेश दिया है कि जिन नगर निगमों का कार्यकाल समाप्त हो गया है या जिनका कार्यकाल निकट भविष्य में समाप्त होने वाला है, उन नगर निगमों के आगामी चुनावों के लिए वार्डों की संख्या एवं संरचना का निर्धारण कर वार्ड संरचना का प्रारूप तैयार किया जाए। मुंबई में वार्डों की संख्या बढ़ाकर 236 कर दी गई थी, जिसे शिंदे सरकार ने वार्डों की संख्या घटाकर 227 करने का निर्णय लिया था। हालांकि राज्य सरकार ने वार्ड गठन का अधिकार अपने हाथ में ले लिया है, लेकिन कानून में प्रावधान है कि राज्य चुनाव आयोग की मंजूरी के बाद ही मसौदों को अंतिम रूप दिया जाएगा।
मुंबई, ठाणे, पुणे, नागपुर, कल्याण-डोंबिवली, नवी मुंबई, वसई-विरार, पिंपरी-चिंचवाड़, अमरावती, औरंगाबाद, कोल्हापुर आदि महा महानगरपालिकाओं का कार्यकाल पहले ही समाप्त हो चुका है और वहां प्रशासनिक शासन लागू है। ओबीसी आरक्षण का मामला अब सुलझ गया है। वार्डों के गठन का मामला फिलहाल कोर्ट में विचाराधीन है। चर्चा है कि कोर्ट की हरी झंडी मिलने पर फरवरी या मार्च में चुनाव हो सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.