गोरेगांव Westin hotel रोड पर कीचड़ मिट्टी से वाहन चालक परेशान, कंस्ट्रक्शन कंपनियों की मनमानी पर BMC नहीं लगा रही रोक

मुंबई

विजय यादव
मुंबई।
गोरेगांव पूर्व ओबेरॉय मॉल के पीछे वेस्टिन होटल रोड पर लोगों का चलना मुश्किल हो गया है। खासकर दुपहिया वाहन चालकों के लिए हमेशा खतरा बना रहता है। यहां आसपास इमारत निर्माणाधीन कार्य में लगी कंस्ट्रक्शन कंपनियों के डंपर (बड़े ट्रक) पूरे दिन मिट्टी बिखेरते हुए रोड से गुजरते हैं। सड़क पर फैली यही मिट्टी थोड़ी सी भी बारिश होने पर कीचड़ में तब्दील हो जाती है और वाहन चालकों के लिए खतरा बन जाती है। इनकी दबंगई और मनमानी का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि, मुंबई महानगर पालिका और ट्रैफिक पुलिस भी इनपर रोक लगाने में असमर्थ है।
गोरेगांव के इस रोड से दिनभर बड़ी संख्या में लोगों का आवागमन बना रहता है। काफी संख्या में लोग गोरेगांव स्टेशन और आरे कालोनी के लिए इसी रास्ते का पैदल उपयोग करते हैं। यहां सड़क पर कीचड़ इस कदर फैला रहता है कि, बगल से कोई बड़ा वाहन गुजर जाय तो कीचड़ उड़कर सीधे आपके कपड़े पर। इतना ही नहीं दुपहिया वाहनों के स्लिप होकर गिरने का खतरा सबसे अधिक रहता है।
एक राहगीर ने बताया कि, यह कीचड़ थोड़ी सी धूप होने पर सूखकर धूल मिट्टी में परिवर्तित हो जाती है और वाहनों के झोंके से उड़कर लोगों के मुंह नाक में दम कर देती है। इतना सब कुछ खुले आम देखा जा सकता है। इसके बावजूद मुंबई मनपा और यातायात पुलिस कंस्ट्रक्शन कंपनी के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं करती। लगता है कारवाई के लिए मुंबई मनपा को किसी बड़े हादसे का इंतजार है।
यहां से गुजरने वाले लोगों की मांग है कि, मुंबई महानगर पालिका तत्काल इन निर्माण कंपनियों की मनमानी पर रोक लगाए, जिससे लोगों के जीवन के साथ खिलवाड़ होने से रोका जा सके साथ ही परिसर को स्वच्छ रखा जा सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published.