बहन की शौक पूरा करने के लिए भाई बन गया चोर, अब है सलाखों के पीछे

मुंबई

न्यूज स्टैंड18 नेटवर्क
मुंबई।
गोरेगांव (पूर्व) की आरे पुलिस ने 3 शातिर बाइक चोर गैंग को आरे कॉलोनी से रंगे हाथ गिरफ्तार किया है। जिनके पास से 12 बाइक जब्त की गई है। गैंग के दो चोरों पर मुंबई के अलग अलग पुलिस स्टेशनों में चोरी के मामले दर्ज है। गैंग का मुखिया सिर्फ पल्सर बाइक चुराता था क्योंकि उसकी बड़ी बहन को पल्सर बाइक से घूमना पसंद था। न्यायालय ने सभी आरोपियों को 5 फरवरी तक पुलिस कस्टडी में रखने का आदेश दिया है।
गौरतलब है कि 22 जनवरी आरे कॉलोनी के रॉयल पाम से पल्सर बाइक चोरी हुई थी। जिसकी शिकायत आरे पुलिस ने दर्ज की है। आरे पुलिस के पीआई इंचार्ज वाल्मीक पाटील, पीएसआई खोलम, पीएसआई सावंत,पीएन गौतम बड़े, भाबड, सिंघाने, काटे, थोरात और उनकी टीम ने आरे कॉलोनी इलाके में लगे सभी सीसीटीवी फुटेज को रातदिन एक करके खंगाला।
इस दरम्यान पुलिस को मुख्य आरोपी अलंकार गुढेकर (20) एक पल्सर बाइक को आरे कॉलोनी से ले जाते हुए दिखाई दिया। पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज की मदद से अलंकार का पीछा किया। इस दौरान पुलिस को दूसरा आरोपी कृष्णा यादव (21) और शिब्बू यादव (20) के अंधेरी पम्प हाउस में होने की जानकारी मिली। 31जनवरी को यह तीनों आरे कॉलोनी में जब चोरी के उद्देश्य से आये थे तभी पुलिस ने सूचना के आधार पर इन्हें दबोच लिया. इनके पास से 12 बाइक जब्त की है जिनमे पल्सर 220 सहित डिओ स्कूटर शामिल है।
गैंग से पूछताछ में पता चला कि गैंग का मुख्य आरोपी अलंकार की बहन को पल्सर बाइक से घूमना पसंद था इसलिए अलंकार सिर्फ पल्सर बाइक चुराता था.अलंकार दोस्त की गाड़ी बताकर बहन को घुमाने लेकर जाता था. जबकि दूसरे आरोपी कृष्णा यादव की बाइक 2 साल पहले अंधेरी पंप हाउस से चोरी हो गई थी इसलिए वह बदला लेने के लिए बाइक चोरी करने लगा था।
आरोपी शिब्बू यादव नायगॉव का रहने वाला है. कृष्णा के साथ बाइक ठिकाने लगाने का काम करता था। जोन के डीसीपी सोमनाथ घारगे ने बताया कि यह शातिर चोर गैंग बाइक को डायरेक्ट स्टार्ट करके चोरी करते थे। जिनके ऊपर आरे कॉलोनी, जुहू,घाटकोपर,मालाड, दहिसर, वकोला सहित कई चोरी के मामले दर्ज है।
जिनके पास से 10 मोटर बाइक जब्त की गई है जिनकी कुल किमत करीब 6 लाख रुपये है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.