Congress President Election: क्या गांधी परिवार से बाहर का होगा कांग्रेस का नया मुखिया

राजनीति समाचार

विजय यादव
कांग्रेस
के राष्ट्रीय अध्यक्ष को लेकर गहमा गहमी शुरू हो गई है। 20 साल बाद ऐसा होने जा रहा है कि कांग्रेस (Congress) राष्ट्रीय अध्यक्ष पद के लिए गांधी परिवार से बाहर के उम्मीदवार मैदान होंगे। फिलहाल इस रेस में दो नाम सामने आए हैं। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) और सांसद शशि थरूर। लेकिन शशि थरूर का नामांकन तक पहुंचना मुस्किल लग रहा है, क्योंकि पार्टी चुनाव का एक नियम उन्हें पर्चा दाखिल करने में रोड़े डाल सकता है।
चुनाव प्रक्रिया की पूरी जिम्मेदारी संभाल रहे पार्टी के सीनियर लीडिर मधुसूदन मिस्त्री (Madhusudan Mistry) ने गुरुवार को कहा है कि, जो लोग कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए नामांकन दाखिल करना चाहते हैं वो 20 सितंबर से पहले डेलीगेट्स की लिस्ट देख सकते हैं। वहीं उन्हें अपने नामांकन के लिए 10 प्रदेश कांग्रेस कमेटी डेलीगेट्स का समर्थन दिखाना होगा। शशि थरूर (Shashi Tharoor) के लिए 10 प्रदेश कमेटियों का समर्थन जुटा पाना मुश्किल है। शशि थरूर पार्टी में हमें अपने विरोधी बयानों को लेकर भी चर्चा में रहते हैं।
हालांकि अभी भी कांग्रेस की लगभग सभी कमेटियां राहुल गांधी को अध्यक्ष बनाए जाने के पक्ष में है। सोमवार तक 6 राज्यों ने राहुल के पक्ष में समर्थन जताया है। राहुल गांधी पहले साफ कर चुके हैं कि मैं अध्यक्ष नही बनूंगा। इसके बाद पार्टी कार्यकर्ताओं की निगाह सोनिया गांधी पर लगी थी। पार्टी सूत्रों के अनुशार सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) अपने स्वास्थ्य को देखते हुए यह जिम्मेदारी लेने से मना कर सकती हैं। ऐसी स्थिति में अशोक गहलोत का राष्ट्रीय अध्यक्ष बनना तय माना जा रहा है।
अशोक गहलोत को कांग्रेस में संगठन और सरकार चलाने का लंबा अनुभव है। इसके साथ ही गांधी परिवार के विश्वसनीय होने के साथ साथ OBC समाज से आते हैं।
2024 में लोकसभा चुनाव के अलावा देश के 11 राज्यों में विधानसभा चुनाव भी है। पिछले कुछ समय से भाजपा लगातार OBC, दलित और आदिवासी कार्ड खेल रही है, ऐसे में अशोक गहलोत कांग्रेस के लिए रामबाण साबित हो सकते हैं।
पार्टी सूत्रों के मुताबिक गहलोत 26 से 28 सितंबर के बीच कभी भी नामांकन दाखिल कर सकते हैं। 20 साल बाद ऐसा पहली बार होगा जब गांधी परिवार से अलग कोई कैंडिडेट चुनावी मैदान में होगा।
कांग्रेस अध्यक्ष पद के चुनाव के लिए 22 सितंबर को अधिसूचना जारी होगी। वहीं, नामांकन दाखिल करने की प्रक्रिया 24 से 30 सितंबर तक चलेगी। चुनाव प्रक्रिया के लिए नामांकन वापस लेने की अंतिम तिथि 8 अक्टूबर है। 17 अक्टूबर को मतदान होगा और नतीजे 19 अक्टूबर को घोषित होंगे।
कांग्रेस अध्यक्ष का चुनाव करीब प्रदेश कांग्रेस कमेटी के 9000 डेलीगेट्स करेंगे। वहीं कांग्रेस वर्किंग कमेटी के 23 सदस्यों में से 12 चुने जाएंगे जबकि 11 नामित होंगे। अगर कांग्रेस वर्किंग कमेटी के 12 चुने सदस्यों के लिए अधिक उम्मीदवार होंगे, तो उनके लिए भी चुनाव होगा, अगर 23 नाम पर सर्वसम्मति होगी तो चुनाव नहीं होगा। कांग्रेस वर्किंग कमेटी के सदस्यों का चुनाव कांग्रेस अध्यक्ष का चुनाव पूरा होने के बाद होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.