महाराष्ट्र दिवस पर दिव्यांगों को मिला मेट्रो का सुनहरा सफर

मुंबई

न्यूज स्टैंड18 नेटवर्क
मुंबई।
दिव्यांगो के लिए यात्रा हमेशा परेशानियों भरी होती है, यही वजह है कि दिव्यांग भाई-बहन चाहकर भी कोई शौकिया यात्रा नही कर पाते और उनके मन की इच्छा, जिज्ञासा भीतर ही रह जाती है। ऐसे ही उत्साही और जिज्ञासू दिव्यांगों को पश्चिम उपनगर की नवसंचालित मेट्रो ट्रेन में प्रखर समाजसेवी राजीव सिंगल ने सफर कराया।

दिव्यांगो का सुहाना मेट्रो में सफर


महाराष्ट्र दिवस पर दहिसर से आरे स्टेशन (गोरेगांव) व वापसी की इस अनोखी यात्रा में बड़ी संख्या में दिव्यांगो ने भाग लिया। राजीव सिंगल एक सफल कारोबारी होने के साथ – साथ शहर में प्रखर सामाजिक सेवा के लिए भी जाने जाते हैं। कोरोना काल में सरकारी अस्पतालों में आवश्यक वस्तुओं, मेडिकल इंस्ट्रुमेंट से लेकर जरूरतमंदों तक भोजन पहुंचाने तक का कार्य इन्होंने बखूबी किया, जिसे आज भी मुंबई शहर याद करता है। भारत मर्चेंट चेंबर के ट्रस्टी राजीव सिंगल खासकर शहर में मेडिकल सेवाओं के लिए पहचाने जाते हैं। इनके सहयोग से अब तक अनगिनत लोगों के जटिल से जटिल बीमारियों का इलाज किया जा चुका है।
दहिसर से आरे स्टेशन की तक इस यात्रा को सफल बनाने में MMRDA की अतिरिक्त आयुक्त सोनिया सेठी (IAS) ने विशेष सहयोग दिया। इस अवसर पर कस्तूरबा मार्ग पुलिस स्टेशन के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक भी मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.