मुंबई को झोपड़पट्टी मुक्त करेंगे एकनाथ शिंदे, BEST डिपो की जगह पर बनेंगी इमारतें

मुंबई

मुंबई। राज्य सरकार का मुख्य उद्देश्य मुंबई और मुंबई महानगर क्षेत्र को स्वच्छ, सुंदर और झोपड़पट्टी मुक्त बनाना है। उसके लिए सरकार की ओर से संबंधित प्रणालियों को हर जरूरी मदद मुहैया कराई जाएगी। मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने कहा कि सरकार बदल गई है, अब मुंबई में भी बदलाव आएगा।
लोकसभा सांसद राहुल शेवाले, सांसद डॉ. श्रीकांत शिंदे की पहल पर और ‘कंस्ट्रक्शन टाइम्स’ के सहयोग से शनिवार को मुंबई के फोर सीजन्स होटल में ‘मुंबई मेट्रोपॉलिटन रीजन एक्ट 2034’ पर विशेष एक दिवसीय सम्मेलन का आयोजन किया गया। मुख्यमंत्री इस सम्मेलन के समापन पर बोल रहे थे।
इस सम्मेलन में मुंबई और मुंबई महानगर क्षेत्र के समग्र विकास के लिए लागू की जा रही परियोजनाओं की समीक्षा के साथ-साथ इस सम्मेलन में समस्याओं के समाधान के लिए सुझाए गए उपायों की समीक्षा करते हुए एक श्वेत पत्र प्रस्तुत किया गया।
मुख्यमंत्री ने कहा, मुंबई में स्लम बस्तियों की समस्या बहुत बड़ी है। आज भी मुंबई की 60 फीसदी आबादी स्लम बस्तियों में रहती है। 2052 में यह संख्या और बढ़ने की संभावना है। इसलिए इस सरकार का मुख्य उद्देश्य मुंबई और मुंबई महानगर क्षेत्र को स्लम मुक्त बनाना है। इसके लिए योजनाओं में तेजी लाई जाएगी।
उन्होंने यह भी बताया कि झोपड़पट्टी पुनर्वसन योजनाओं के लिए बेस्ट और एसटी डिपो के खाली स्थान का उपयोग करने का विचार सामने आया है। धारावी पुनर्विकास परियोजना शुरू की जा रही है। मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि इस परियोजना के पूरा होने के बाद मुंबई स्लम मुक्त हो जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.