Fake News banned: भारत विरोधी 20 यूट्यूब चैनल बैन

समाचार

नई दिल्ली। सरकार ने भारत विरोधी 20 यूट्यूब चैनल सहित 2 न्यूज़ पोर्टल पर बैन लगा दिया है।
केंद्र सरकार ने यह एक्शन इटेलीजेंस एजेंसियों और सूचना प्रसारण मंत्रालय की रिपोर्ट्स के बाद लिया है। बताया गया है कि, यह चैनल पाकिस्तान से ऑपरेट किए जा रहे थे। जिन दो पर बैन लगाया गया है वे भारत से जुड़े संवेदनशील मुद्दों पर फेक न्यूज फैला रहे थे।
केंद्र सरकार ने कहा कि इंटरनेट पर कश्मीर, भारतीय सेना, भारत में अल्पसंख्यकों की स्थिति, राम मंदिर और जनरल बिपिन रावत के हेलिकॉप्टर क्रैश जैसे मुद्दों पर ये यूट्यूब चैनल्स और वेबसाइट फेक न्यूज पोस्ट कर रहे थे। सरकार ने जिन यूट्यूब चैनल को बैन किया है उनमें द पंच लाइन, इंटरनेशनल वेब न्यूज, खालसा टीवी, द नेकेड ट्रुथ अहम हैं।
बैन किए गए यूट्यूब चैनल्स के नाम हैं, द पंच लाइन, इंटरनेशनल वेब न्यूज, खालसा टीवी, द नेकेड ट्रुथ, News24, 48 न्यूज, काल्पनिक, हिस्टोरिकल फैक्ट, पंजाब वायरल, नया पाकिस्तान ग्लोबल, कवर स्टोरी, गो ग्लोबल, ई-कामर्स, जुनैद हलीम ऑफिशियल, तैयब हनीफ और ज़ेन अली ऑफिशियल।
मीडिया रिपोर्ट के अनुशार इन चैनल्स के 35 लाख सब्सक्राइबर्स, 55 करोड़ वीडियो व्यूज है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, पाकिस्तान से ऑपरेट किए जा रहे नया पाकिस्तान ग्रुप (NPG) के पास यूट्यूब चैनल्स का एक नेटवर्क है। इसके अलावा कुछ अन्य यूट्यूब चैनल भी हैं, हालांकि इनका NPG से कोई संबंध नहीं है। इन चैनल्स के पास करीब 35 लाख सब्सक्राइबर और 55 करोड़ वीडियो व्यूज हैं। कुछ यट्यूब चैनल्स को पाकिस्तानी न्यूज चैनल्स के एंकर्स भी चला रहे थे।
सरकार के मुताबिक, इन साइट्स की निगरानी कर रहे ग्रुप ने पाया कि इस तरह के प्रोपेगंडा से राष्ट्रीय सुरक्षा को खतरा है क्योंकि इनके जरिए गलत सूचनाएं फैलाई जा रही हैं। यह पाकिस्तान से भारत के खिलाफ पूरी प्लानिंग के तहत चलाया जा रहा कैम्पेन है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.