Janmashtami 2022 Date: मथुरा में जन्माष्टमी कब मनाई जाएगी 18 या 19 अगस्त को?

समाचार

मथुरा। भगवान श्री कृष्ण की जन्मस्थली मथुरा में जन्माष्टमी किस दिन मनाई जा रही है। इस बात को जानने की उत्सुकता लोगों में बहुत ज्यादा है। Mathura मे जन्माष्टमी कब मनाई जा रही है। यह बताने से पहले आपको शास्त्र क्या कहता है वह बता दूं।
हिंदू धर्म शास्त्रों के अनुसार भगवान श्रीकृष्ण का जन्म रात के 12 बजे हुआ था। इस कारण कुछ लोगों का मानना है कि जन्माष्टमी तिथि 18 अगस्त को मनाई जाएगी। वहीं कुछ ज्योतिषाचार्यों का कहना है कि भगवान कृष्ण का जन्म अष्टमी तिथि को रात्रि 12 बजे हुआ था और 19 अगस्त को पूरे दिन अष्टमी तिथि रहेगी। इसके अलावा 19 को सूर्योदय भी होगा। हिंदू शास्त्रों के अनुसार हमेशा उदया तिथि को माना जाता है। उदया तिथि सूर्योदय के समय पड़ने वाली तिथि होती है। इस बार अष्टमी की उदया तिथि 19 अगस्त को है। इसलिए जन्माष्टमी 19 अगस्त को मनाई जानी चाहिए। मथुरा, वृन्दावन, द्वारिकाधीश मंदिर और बांके बिहारी मंदिर में जन्माष्टमी 19 अगस्त को मनाई जाएगी।
धार्मिक ग्रंथों के अनुसार भगवान कृष्ण का जन्म भाद्रपद मास के कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि और रोहिणी नक्षत्र में हुआ था। पंचांग के अनुसार गुरुवार 18 अगस्त को रात के 09 बजकर 21 मिनट से अष्टमी तिथि लग जाएगी जो, अगले दिन 19 अगस्त शुक्रवार को रात के 10 बजकर 59 मिनट पर समाप्त होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.