राकांपा के शिरडी शिविर के बाद गिर जायेगी महाराष्ट्र सरकार?

मुंबई

मुंबई। राजनीतिक गलियारों में चर्चा है कि राज्य में शिंदे-फडणवीस नेतृत्व वाली सरकार विधायकों की पात्रता के मुद्दे पर गिर सकती है। अब यही भविष्यवाणी एनसीपी के प्रदेश अध्यक्ष जयंत पाटिल ने की है।
उन्होंने कहा कि, शिरडी में आज से राकांपा का दो दिवसीय मंथन शिविर शुरू हो रहा है और इसी के तहत राकांपा के कई प्रमुख नेता, पदाधिकारी, कार्यकर्ता, विधायक-खासदार शिरडी में प्रवेश कर चुके हैं। शिविर में पार्टी के भविष्य को लेकर मंथन होगा। इस बीच शिविर शुरू होने से पहले ही प्रदेश अध्यक्ष जयंत पाटिल के इस दावे को लेकर सियासी गलियारों में चर्चा शुरू हो गई है।
इस अवसर पर बोलते हुए, जयंत पाटिल ने सत्तारूढ़ दल के कुछ नेताओं के इस दावे पर कहा कि “राकांपा विभाजित होने जा रही है।” राकांपा मजबूत है और बंटेगी नहीं। मीडिया से बात करते हुए उन्होंने कहा, आज महाराष्ट्र में सबसे मजबूत पार्टी राकांपा है। इसके टूटने का कोई सवाल ही नहीं है।
इस बीच जयंत पाटिल ने भविष्यवाणी की है कि एनसीपी के इस सत्र के बाद एकनाथ शिंदे और देवेंद्र फडणवीस के नेतृत्व में राज्य में मौजूदा सरकार सत्ता से बाहर हो जाएगी। जयंत पाटिल ने शिरडी के मौजूदा सांसदों पर कटाक्ष करते हुए कहा, “हमारे परमस्नेही सांसद जिन्होंने स्वयं घोषित किया कि उनके अपने गांव में ऐसा गुण है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.