Manoj Tiwari: एयर ट्रैफिक कंट्रोल रूम में घुसे, पुलिस ने मामला दर्ज किया

समाचार

देवघर। देवघर पुलिस ने 31 अगस्त को देवघर हवाईअड्डे से उड़ान भरने के लिए कथित तौर पर हवाई यातायात नियंत्रण(ATC) (Air traffic control) से जबरन मंजूरी लेने के आरोप में BJP सांसद निशिकांत दुबे उनके 2 बेटों, सांसद मनोज तिवारी, देवघर हवाई अड्डे के निदेशक और अन्य के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज किया है।
31 अगस्त को हवाईअड्डे पर ‘नाइट टेक-ऑफ या लैंडिंग सुविधा’ नहीं होने के बावजूद उक्त नेताओं ने अपने राजनीतिक प्रभाव का इस्तेमाल करते हुए दबाव बनाकर कर उड़ान भरने की अनुमति ली। सुरक्षा प्रभारी सुमन आनंद की शिकायत पर 1 सितंबर को कुंडा पुलिस स्टेशन में प्राथमिकी दर्ज की गई थी, जिसमें कहा गया था कि उक्त व्यक्तियों ने एटीसी कक्ष में प्रवेश करके सभी ‘सुरक्षा मानकों’ का उल्लंघन किया और अधिकारियों पर टेक-ऑफ करने के लिए दबाव डाला।
“दोनों सांसदों निशिकांत दुबे और मनोज तिवारी, हवाई अड्डे के निदेशक सहित नौ लोगों पर आईपीसी की धारा 336 (दूसरों की जान या व्यक्तिगत सुरक्षा को खतरे में डालने वाला कार्य), 447 (आपराधिक अतिचार के लिए सजा), 448 (घर के लिए सजा) के तहत मामला दर्ज किया गया है।
मनोज तिवारी इसके पहले मार्च 2017 में दिल्‍ली स्थित यमुना विहार में पूर्वी नगर निगम के एक सरकारी स्कूल में अतिथि बनकर गए थे। वहां पर उन्हें सरकारी स्कूलों में लगे सीसीटीवी का शुभारंभ करना था। मंच पर स्वागत के बाद महिला टीचर नीतू चौधरी ने उनसे गाने की गुहार कर दी। इतने पर मनोज तिवारी तैश में आ गए और मंच पर ही सरेआम महिला टीचर की बेइज्जती करते हुए उन्हें न केवल मंच से उतार दिया, बल्कि उनके खिलाफ एक्शन लेने का फरमान भी सुना दिया। तिवारी ने कहा आपको सांसद से बात करने की तमीज नहीं है। आप मंच से नीचे उतर जाइए और इनके खिलाफ एक्शन लीजिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.