मुंबई में खसरे का प्रकोप बढ़ा, 10 की मौत, मनपा का टीकाकरण अभियान तेज

मुंबई स्वास्थ्य

मुंबई। गोवंडी में खसरे से एक डेढ़ साल की बच्ची की मौत हो गई। इसके साथ ही संदिग्ध खसरे से होने वाली मौतों की संख्या बढ़कर 10 हो गई है। इनमें से एक मौत मुंबई के बाहर भिवंडी में हुई है। खसरे के मरीजों की संख्या दिन-ब-दिन बढ़ती जा रही है। सोमवार को मुंबई में 24 नए मरीज मिले, जिससे मरीजों की संख्या 208 हो गई। साथ ही सोमवार को 22 मरीजों को अस्पताल से छुट्टी दी गई।

मुंबई में खसरा से एक और लड़की की मौत हो गई, जबकि मनपा खसरे के प्रकोप को नियंत्रित करने के लिए हर संभव प्रयास कर रहा था। यह मौत संदिग्ध है और मुंबई में मरने वालों की संख्या 10 पहुंच गई है। गोवंडी में एक डेढ़ साल की बच्ची को 3 नवंबर को बुखार और खांसी हुई। 5 नवंबर को उसके शरीर पर दाने निकल आए। 11 नवंबर को उसकी हालत बिगड़ गई और उसे ICU में स्थानांतरित कर दिया गया। 13 नवंबर को उसे लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर रखा गया था। 21 नवंबर को खसरे के कारण दिल का दौरा पड़ने से उसकी मौत हो गई। इस बच्ची का पांच महीने की उम्र में ऑपरेशन किया गया था।
इस बीच मुंबई में सोमवार को 24 नए मरीज मिले, जिससे मरीजों की संख्या 208 हो गई। सोमवार को सबसे ज्यादा 6 मरीज मुंबई के गोवंडी में मिले। इसी तरह कुर्ला 5, अंधेरी पूर्व 3, प्रभादेवी, गोरेगांव और कांदिवली डिवीजनों में दो-दो मामले सामने आए हैं, जबकि भायखला, माटुंगा, भांडुप, चेंबूर डिवीजनों में एक-एक मामला है। साथ ही सोमवार को मुंबई में 172 संदिग्ध मरीज मिलने से संदिग्ध मरीजों की संख्या बढ़कर 3 हजार 208 हो गई है। संदिग्ध मरीजों को 24 घंटे के अंतराल पर विटामिन ए की दो खुराक दी जा रही है। इलाज के लिए भर्ती 94 मरीजों में से 67 मरीजों की हालत स्थिर, 26 मरीज वेंटीलेटर पर और एक मरीज लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर है।

टीकाकरण के लिए विशेष अभियान
खसरे के प्रकोप के बाद मुंबई में खसरे के टीकाकरण से वंचित बच्चों के लिए अतिरिक्त टीकाकरण शिविर आयोजित किए जा रहे हैं। इस हिसाब से एक अक्टूबर से अब तक मुंबई में 1160 सत्र आयोजित किए गए। इसमें से 9080 बच्चों को एमआर1 और 7797 बच्चों को एमएमआर के टीके की खुराक दी गई। सोमवार को हुए इस 276 सत्रों में 881 बच्चों को एमआर1 और 7797 बच्चों को एमएमआर के टीके की खुराक दी गई। इसमें सोमवार को हुए 276 शिविरों में 881 बच्चों को एमआर1 व 987 बच्चों को एमएमआर के टीके की खुराक दी गई।
मुंबई में जहां आठ वार्डों में खसरे का प्रकोप हो चुका है, वहीं धारावी में खसरे के प्रकोप से पहले महानगर पालिका के जी/उत्तर विभाग को तैयार कर लिया गया है। इसके मुताबिक मनपा ने अगले 10 दिनों में धारावी में टीकाकरण से वंचित और नौ महीने पूरे करने वाले सभी बच्चों का टीकाकरण पूरा करने का लक्ष्य रखा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.