बोइसर में मनसे नेता ने डाक्टर को पीटा, अस्पताल में तोड़फोड़, 9 गिरफ्तार

मुंबई

न्यूज स्टैंड18 नेटवर्क
बोइसर।
मनसे के पालघर जिला प्रमुख समीर मोरे अपने समर्थकों के साथ डॉ स्वप्निल शिंदे को बेरहमी से पीटा है। इतना ही नहीं अस्पताल में तोड़फोड़ भी की गई। पिटाई में डॉक्टर गंभीर रूप से घायल हो गए और उन्हें इलाज के लिए वापी के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया है। समीर मोरे और उनके समर्थकों के खिलाफ बोईसर पुलिस स्टेशन में मामला दर्ज कर नौ लोगों को गिरफ्तार किया गया है।
बोईसर में स्वप्निल शिंदे का शिंदे अस्पताल है। शुक्रवार रात करीब 10.30 बजे एमएनएस पालघर (ग्रामीण) जिला प्रमुख व नंदगांव के सरपंच समीर मोरे और उनके समर्थकों ने स्वप्नील शिंदे पर हमला कर पिटाई कर दी और अस्पताल में तोड़फोड़ कर अस्पताल को नुकसान पहुंचाया। इसी अस्पताल में पहले इलाज करा चुके एक मरीज का बिल कम करने को लेकर उनके बीच विवाद हो गया था।
दो दिन पहले इसी विवाद में समीर मोरे ने डॉक्टर से मारपीट की थी। इसके बाद डॉक्टर शिंदे ने बोईसर थाने में शिकायत दर्ज कराई। शुक्रवार की रात एक बार फिर समीर मोरे और उनके समर्थकों ने डॉ. शिंदे के अस्पताल में प्रवेश किया और डॉ. स्वप्निल शिंदे और स्टाफ के साथ मारपीट की। पुलिस अधिकारियों ने कहा कि इस पिटाई में डॉ. शिंदे के सिर में गंभीर चोट लगने के कारण उन्हें इलाज के लिए वापी अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां उनकी हालत स्थिर है।
डॉक्टर की पिटाई की यह सारी घटना सीसीटीवी में कैद हो गई है और पालघर के पुलिस अधीक्षक बालासाहेब पाटिल, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक पंकज शिरसाथ, नित्यानंद झा ने व्यक्तिगत रूप से बोईसर पुलिस स्टेशन का दौरा किया और पिटाई की घटना का तत्काल संज्ञान लिया और आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई का आदेश दिया। गजानन पाडलकर ने रात में आरोपी समीर मोरे, उल्हास मोरे, मयूर पाटिल, सिद्धेश महाले सहित नौ आरोपियों को गिरफ्तार कर उन पर आईपीसी की धारा 326, 120-बी, 452, 143, 146, 147, 149, 323, 504, 506 के तहत मामला दर्ज किया है। महाराष्ट्र चिकित्सा सेवा अधिनियम, 2010 की धारा 4 को भी पंजीकृत किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.