Morbi Bridge: मोरबी ब्रिज दुर्घटना में अबतक 134 मौत, 100 लोगों की तलाश जारी

समाचार

Gujarat Cable Bridge Collapsed: मोरबी ब्रिज दुर्घटना में खबर लिखे जाने तक 134 लोगों के मरने की खबर है। खबरों के अनुशार राहत एवं बचाव कार्य सुबह तक जारी रहा। यह घटना रविवार शाम करीब 6.30 बजे की है, जब केबल सस्पेंशन ब्रिज टूटने से करीब 400 लोग मच्छु नदी में गिर गए। दुर्घटना में मारे गए लोगों के शव मोरबी के सिविल हॉस्पिटल में पहुंचा दिए गए हैं। मरने वालों में 50 से ज्यादा बच्चे और महिलाएं शामिल हैं। खबरों के अनुशार 70 से ज्यादा लोग घायल हुए हैं। 100 लोगों की अभी भी तलाश जारी है।
यह पुल पिछले 6 महीने से बंद था। हाल ही में करीब 2 करोड़ रुपए की लागत से मरम्मत का काम पूरा किया गया था। दिवाली के एक दिन बाद 25 अक्टूबर को इसे आम लोगों के लिए खोल दिया गया था। जिला प्रशासन ने हेल्पलाइन नंबर 02822243300 जारी किया है। इसके अलावा घायलों के इलाज के लिए मोरबी और राजकोट हॉस्पिटल में इमरजेंसी वार्ड बनाकर घायलों का इलाज किया जा रहा है। घटना की खबर लगते ही गुजरात के सीएम भूपेंद्र पटेल घटनास्थल पर पहुंच गए थे।
इस मामले में ब्रिज की मैनेजमेंट कंपनी पर गैर इरादतन हत्या का केस दर्ज किया जा रहा है। जांच के लिए एक कमेटी बनी है।
PM मोदी ने अहमदाबाद में होने वाले अपने रोड शो को रद्द कर दिया है। ज्ञात हो इस समय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुजरात यात्रा पर हैं।
उधर राहुल गांधी ने गुजरात के कार्यकर्ताओं से कहा कि पीड़ितों की हरसंभव मदद करें।
बताया जा रहा है कि, इस पुराने पुल की क्षमता करीब 100 लोगों की थी, लेकिन रविवार को छुट्टी होने के चलते इस पर करीब 500 लोग जमा थे। यही हादसे की वजह बना। पुल पर घूमने के लिए टिकट लेना पड़ता है, आश्चर्य इस बार का है जब ब्रिज पर लोगों की भीड़ बढ़ रही थी, तब भी टिकट क्यों दिया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.