Nasik Bus accident: नासिक बस दुर्घटना में मरने वालों की संख्या 11 हुई, मुख्यमंत्री की ओर से 5-5 लाख का मुआवजा

मुंबई समाचार

न्यूज स्टैंड18 नेटवर्क
नासिक।
नासिक (Nasik) बस दुर्घटना में मृतकों की संख्या बढ़कर 11 हो गई है, इसके अलावा करीब दर्जनभर लोगों का इलाज चल रहा है। राज्य के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे (Eknath Shinde) ने मृतकों के परिजनों को पांच लाख रुपए का दुर्घटना राहत देने की घोषणा की है। नासिक-औरंगाबाद मार्ग पर नंदूरनाका में एक निजी यात्री बस में आग लगने के बाद यह हादसा हुआ। अब तक मिली जानकारी के मुताबिक इस भीषण हादसे में 11 यात्रियों की मौत हो चुकी है। मृतकों की संख्या बढ़ने की भी आशंका जताई जा रही है। इसके अलावा बस में लगी आग में कई लोग गंभीर रूप से झुलस गए थे जिनका अस्पताल में इलाज चल रहा है।
इस भीषण हादसे पर एबीपी माझा से बात करते हुए मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने कहा कि ”मैंने कमिश्नर, कलेक्टर और पुलिस अधीक्षक से चर्चा की है। मैंने चिकित्सा अधिकारियों से भी बात की है। करीब 11 लोगों की मौत हो चुकी है और 38 घायल हैं, मैंने उन्हें तुरंत इलाज के निर्देश दिए हैं। मैंने निजी अस्पतालों से मदद लेने के भी निर्देश दिए हैं।
हर हाल में घायलों को उचित इलाज मिलना चाहिए। नासिक आयुक्त, पुलिस अधीक्षक मौके पर हैं। उन्हें निगरानी के लिए कहा गया है। मैंने निर्देश दिए हैं कि कोई भी इलाज में कोई कमी न रखे।”
इसके अलावा सभी मामलों की जांच की जाएगी। लेकिन मैंने सुझाव दिया है कि इस समय घायलों की मदद को प्राथमिकता दी जाए। यह बस यवतमाल से मुंबई की ओर जा रही थी। इसने एक ट्रक को टक्कर मार दी और उसमें आग लग गई। घायलों को इलाज के लिए भेजा गया है, दो-तीन लोगों को एक निजी अस्पताल में भी भर्ती कराया गया है। घायलों का इलाज पूरी तरह से सरकार करेगी और मरने वालों के परिवारों को सरकार की ओर से पांच लाख रुपये की अनुग्रह राशि दी जाएगी।

कैसे हुआ हादसा

शनिवार तड़के औरंगाबाद रोड पर डंपर-निजी बस की टक्कर के बाद बस में आग लगने से 11 यात्रियों की मौत हो गई। इसमें बच्चे के साथ मां भी शामिल है। मरने वालों की संख्या बढ़ने की संभावना है।
बताया जा रहा है कि हादसे के बाद डीजल की टंकी फटने से बस में आग लग गई। प्रारंभिक जानकारी यह है कि दुर्घटना बस चिंतामणि ट्रेवल की है। यह बस यवतमाल से मुंबई जा रही थी। पंचवटी के होटल मिर्च चौक पर सुबह करीब पांच बजे कोयले से भरे डंपर ने टक्कर मार दी। हादसे के बाद बस में आग लग गई। गहरी नींद में सो रहे यात्रियों को सचमुच कुचल दिया गया। बताया जा रहा है कि बस में 20 से 25 यात्री सवार थे। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि उनमें से कुछ कूदकर भाग निकले। घटना की जानकारी मिलते ही दमकल की गाड़ी मौके पर पहुंची। जलती बस को आधे घंटे तक बुझाने का प्रयास किया गया। आग में बस का कंकाल ही रह गया। दमकल अधिकारी संजय बैरागी ने बताया कि बस में सवार 11 यात्रियों की मौत हो गई।

रेजिडेंट डिप्टी कलेक्टर भगवान डोईफोडे ने बताया कि इस हादसे में 17 यात्री घायल हुए हैं जिन्हें जिला सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।
इसके अलावा बस में लगी आग में कई लोग गंभीर रूप से झुलस गए थे और अब उनका अस्पताल में इलाज चल रहा है। दमकल की गाड़ियां और पुलिस की एक टीम मौके पर पहुंच गई है और राहत कार्य जारी है।
यह बस शुक्रवार दोपहर साढ़े तीन बजे यवतमाल से रवाना हुई। सुबह साढ़े पांच बजे इसी चौराहे पर उनका एक्सीडेंट हो गया। बस में करीब 40 यात्री सवार थे। 11 लोगों की मौके पर ही मौत हो गई। आसपास के लोगों ने दौड़कर दो-तीन लोगों को बचाया। मृतक की शिनाख्त की जा रही है। प्रत्यक्षदर्शियों से जानकारी ली जा रही है। बस को डंपर की टक्कर लगने से हादसा हुआ। डंपर चालक फरार है। यह जानकारी नासिक के पुलिस आयुक्त जयंत नायकनवरे ने मीडिया को दी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.