वाराणसी के दो प्रधान डाकघरों में अब घर से पार्सल पैक कर लाने की जरूरत नहीं

उत्तर प्रदेश समाचार

News stand18 Network
वाराणसी।
डाक विभाग का पत्र और पार्सल से पुराना नाता है। ई-कॉमर्स के बढ़ते चलन से पार्सल व्यवसाय के क्षेत्र में तेजी से बढ़ोत्तरी हो रही है। ऐसे में डाक विभाग ने पार्सल को एक अलग उत्पाद के रूप में चिन्हित करते हुए तमाम नए आयामों को जोड़ा है। वाराणसी परिक्षेत्र के पोस्टमास्टर जनरल श्री कृष्ण कुमार यादव ने प्रवर डाक अधीक्षक श्री राजन और डाक अधीक्षक श्री पीसी तिवारी के साथ पार्सलों के सुरक्षित पारवहन के क्रम में पार्सलों की पैकिंग हेतु वाराणसी कैंट स्थित प्रधान डाकघर और विशेश्वरगंज स्थित वाराणसी प्रधान डाकघर में पार्सल पैकेजिंग यूनिट का शुभारंभ किया। इस हेतु 1, 2, 5 व 15 किलोग्राम साइज के बॉक्सेस उपलब्ध कराये गए हैं, जिनका मूल्य क्रमशः 30, 45, 75 व 150 रुपये निर्धारित है। उक्त मूल्य में पैकिंग का सेवा शुल्क भी शामिल है।

पोस्टमास्टर जनरल श्री कृष्ण कुमार यादव ने इस अवसर पर कहा कि डाक विभाग की नई पार्सल पैकेजिंग पालिसी में तमाम नवाचार किये गए हैं। डाकघर से पार्सल बुक करवाने के लिए अब ग्राहकों को घर से पार्सल पैक करके लाने की जरूरत नहीं है। प्रधान डाकघर में उपभोक्ताओं को सिर्फ पार्सल लेकर ही आना होगा, जहाँ पार्सल पैकेजिंग यूनिट में डाक कर्मियों द्वारा इसे सुरक्षित रूप में पार्सल बॉक्स में पैक किया जाएगा। पार्सलों को विभिन्न साइजों में सील पैक करने के साथ ही इन पर बीओपीपी टेप भी लगाया जाएगा, ताकि पार्सल के भीतर की वस्तुएं डिस्पेच एवं वितरण के समय क्षतिग्रस्त न हों। पार्सल की अतिरिक्त पैकिंग के लिए बबल रैप, एयर बैग या बॉक्सेज़ का भी उपयोग किया जाएगा जो गंतव्य तक पहुंचाने तक सुरक्षित रखेगा। सभी ग्राहक निर्धारित शुल्क देकर अपने पार्सलों की पैकिंग करवा सकेंगे। पैक्ड पार्सलों को स्पीड पोस्ट, बिजनेस पार्सल अथवा रजिस्टर्ड पार्सल सेवा के माध्यम से गंतव्य तक भेजा जाएगा। अब पार्सल को कपड़े में पैकिंग करके भेजने पर रोक लगा दी गई है।

पोस्टमास्टर जनरल श्री कृष्ण कुमार यादव ने बताया कि पार्सल सेवाओं में नवाचार के इसी क्रम में आने वाले दिनों में पार्सल के रिटर्न पिकअप, ओटीपी आधारित वितरण, स्मार्ट मशीन के माध्यम से पार्सलों की बुकिंग व वितरण की सुविधा भी मुहैया करायी जायेगी। बल्क कस्टमर्स हेतु कैश-ऑन-डिलेवरी वस्तुओं और बीमित वस्तुओं के शुल्क में काफी कमी की गई है।

इस अवसर पर सहायक निदेशक ब्रजेश शर्मा, कार्यवाहक सीनियर पोस्टमास्टर एसके चौधरी, डाक निरीक्षक वीएन द्विवेदी, एसपी गुप्ता, कमल कुमार, विवेक कुमार इत्यादि उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.