ममता की तीसरी पारी का एक साल

लेख समाचार

अजय भट्टाचार्य
एक
साल पहले 2 मई को बंगाल की राजनीति में इतिहास बना था। सत्ता के खेल की शुरुआत हुई थी, तस्वीर जो दिखायी गयी थी हकीकत उससे कहीं ज्यादा अलग निकली। कयास लगाये गये थे, कसीदे गढ़े गये थे, सब व्यर्थ निकला क्योंकि चुनाव जनता को करना था और उसने जीत के लिए बंगाल की बेटी को चुना। बंगाल में तृणमूल की तीसरी सत्ता एक एक साल कल पूरा हो गय। इस उपलब्धि पर तृणमूल कांग्रेस आम जनता के और करीब जाने का टार्गेट लेकर आगे बढ़ने की तैयारी में है। एक साल के पूरे होने के बाद पार्टी प्रमुख ममता बनर्जी ने कल गुरुवार को कार्यकारिणी की बैठक भी की हैं। समझा जाता है कि यह बैठक अगले कार्यों की रणनीति पर चर्चा करने और आगामी लोकसभा चुनावों की रणनीति पर चर्चा के लिए बुलाई गई थी।
पंचायत चुनाव होगा अगला टार्गेट
विधानसभा में ऐतिहासिक जीत के बाद तृणमूल कांग्रेस ने नगर निगम और नगरपालिका में भारी जीत हासिल की। अब पार्टी का अगला लक्ष्य पंचायत चुनाव है जो अगले साल होने वाला है। इसके लिए पार्टी की ओर से ऐसी रणनीति तैयार की जाएगी जिसमें सरकारी योजनाओं के साथ पार्टी की पकड़ जमीनी स्तर पर एक-एक परिवार तक पहुंच सके।
जानकारी के अनुसार मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने हाल ही में दीदी के बोलो की अपार सफलता का जिक्र करते हुए इसे आगे भी जारी रखने की बात कही थी। इस कड़ी में ही जल्द एक नये जनसंम्पर्क अभियान की घोषणा होने वाली है जो जल्द पूरे राज्य में लागू होगी।
एक साल में ममता सरकार की उपलब्धियों पर बात करें तो लक्ष्मी भंडार योजना का लाभ सरकार को सबसे अधिक मिला है, इस योजना का प्रभाव विधानसभा के बाद बाकी चुनावों में भी तृणमूल के पक्ष में पड़ा। इस योजना के लिए सरकार ने 10 हजार करोड़ का फंड आवंटित किया था। इस योजना के तहत राज्य की करीब 1.53 करोड़ महिलाओं को हर महीने आर्थिक राशि दी जाती है।
इसके अलावा स्टूडेंड क्रेडिट योजना के तहत 10 लाख रुपये तक छात्र शिक्षा लोन ले सकेंगे। इमसें कक्षा 10 से 40 साल की उम्र तक के पढ़ने वाले लोन ले सकेंगे जिसकी गैरेंटर राज्य सरकार होगी। दुआरे सरकार के तहत राज्य सरकार मोहल्लों में जाकर लोगों को सरकारी योजनाओं की जानकारी देने के साथ कैंप लगा कर वहां उनके लिए योजनाओं का लाभ मिल सके इसकी व्यवस्था करती है। लोग इन कैंपों में जाकर सरकारी योजनाओं के लिए आवेदन दे सकते हैं। यह योजना तृणमूल को सीधे आम जनमानस से जोड़ने में बड़ी भूमिका निभा रही है। इसके अलावा बाकी कई सरकारी योजनाएं हैं जिसका लाभ दुआरे सरकार के तहत ही आम जनता तक पहुंचाया जा रहा है। इस बीच 2 मई को बंगाल की सत्ता में तीसरी बार वापसी और \एक साल पूरे होने पर तृणमूल ने लोगों को धन्यवाद दिया। तृणमूल ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर कहा, ‘धन्यवाद बंगाल! 2021 में इसी दिन, बंगाल के लोगों ने नफरत फैलाने वालों को निर्णायक रूप से खारिज कर दिया और शांति, एकता तथा वास्तविक विकास को चुना।’
आम लोगों और महिलाओं के लिए काम करने के अपने नारे की ओर इशारा करते हुए पार्टी ने यह भी कहा, ‘आज और हर दिन मां, माटी व मानुष का जश्न मनाना है।’
इस मौके पर पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव अभिषेक बनर्जी ने ट्विटर पर लिखा, ‘‘ दो मई 2021 का दिन हमेशा हमारे दिल में रहेगा। इस दिन, बंगाल के हर व्यक्ति को तीसरी बार मां, माटी, मानुष सरकार में विश्वास रखने के लिए धन्यवाद।’ उन्होंने हर संभव तरीके से राज्य के लोगों की सेवा करने का वादा किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.