Operation BMC: शिंदे गुट की नजर अब शिवसेना के नगरसेवकों पर

मुंबई राजनीति

विजय यादव
मुंबई।
राज्य में सत्ता पर काबिज होने के बाद अब एकनाथ शिंदे गुट की नजर आगामी मनपा चुनाव पर है। मनपा चुनाव में अपनी स्थित को मजबूत करने के लिए शिंदे समर्थक मुंबई के 30 से 40 वर्तमान और पूर्व नगरसेवकों को तोड़ने की तैयारी में है।
राजनीतिक सूत्रों के अनुसार इसके लिए मुंबई के पांच बागी विधायकों को जिम्मेदारी सौंपी गई है। सूत्रों के मुताबिक मुंबई के हर बागी विधायक को शिंदे समूह में चार से पांच पूर्व पार्षदों को शामिल करने की जिम्मेदारी दी गई है। एकनाथ शिंदे के दल में मुंबई से पांच विधायक मंगेश कुडलकर, प्रकाश सुर्वे, यामिनी जाधव, सदा सरवंकर व दिलीप लांडे शामिल हुए हैं। एकनाथ शिंदे ने इन पांच लोगों को ‘ऑपरेशन मुंबई’ की जिम्मेदारी दी है। इस बीच कई वर्षों से मुंबई मनपा की स्थायी समिति के अध्यक्ष रहे सांसद राहुल शेवाले के माध्यम से मुंबई में शिवसेना के नगरसेवकों को तोड़ने की पुरजोर कोशिश की जाएगी। अनुमान है कि मुंबई में शिवसेना के 30 से 40 नगरसेवक राज्य में सत्ता परिवर्तन और जांच एजेंसियों के भय के चलते आसानी से टूट जाएंगे।
एकनाथ शिंदे की नजर सिर्फ शिवसेना पर ही नहीं है बल्कि मनसे को तोड़ने का भी काम शुरू हो गया है। शिंदे समूह को सोमवार की रात पनवेल, उरण, खारघर के कई मनसे कार्यकर्ताओं व पदाधिकारियों को तोड़ने में सफलता मिली है। इस ऑपरेशन में शिंदे समूह में पूर्व जिलाध्यक्षों समेत 65 लोग शामिल हुए हैं। सोमवार की रात मनसे के पूर्व जिलाध्यक्ष अतुल भगत पूर्व पदाधिकारियों के साथ एकनाथ शिंदे से मिले और उनके दल में शामिल हो गए। हाल ही में मनसे नेता अमित ठाकरे ने नवी मुंबई के साथ रायगढ़ का दौरा किया था जिसके कुछ ही दिनों बाद मनसे बिखर गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published.