सिराथू में पल्लवी पटेल की विशाल सभा ने भाजपा की नींद उड़ाई

उत्तर प्रदेश समाचार

स्टूल मंत्री को जनता सबक सिखाएगी: अखिलेश

न्यूज स्टैंड18 नेटवर्क
सिराथू(उप्र)।
आज सिराथू में समाजवादी पार्टी की विशाल रैली ने भारतीय जनता पार्टी की नींद उड़ा दी है, यहां से राज्य के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्या भाजपा से चुनाव मैदान मे हैं। इनके सामने सपा – अपना दल (कृष्णा पटेल) से पल्लवी पटेल चुनाव लड़ रही हैं।

Sirathu SP election campaign


मंगलवार को पल्लवी पटेल के समर्थन में चुनाव प्रचार सभा का आयोजन किया गया था, जिसे सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने संबोधित किया। इस सभा को संबोधित करते हुए उन्होंने ने कहा कि, सिराथू के लोगों ने राय बना ली है। लखनऊ की घबराहट ठीक है। इसीलिए भाजपा के यहां के नेता काम नहीं आ रहे हैं। बाहर के नेता बुलाए जा रहे हैं। देख लेना आज का जनसमर्थन जो जुटा है। इसके बाद वो रंग और कपड़े बदलकर यहां से निकल जाएंगे।
सिराथू में सपा अध्यक्ष ने कहा कि, लॉकडाउन में हमारे मजदूर भाई बच्चों को गोदी में लेकर पैदल चलकर पहुंचे थे। जब बीमारी आई कोरोना की तब दवाई और ऑक्सीजन की जरूरत भी नहीं पूरी कर पाई भाजपा सरकार।
उन्होंने आगे कहा, आपके बगल में बनारस और गाजीपुर गंगा में लाशें तैर रही थी। ये संविधान बचाने का चुनाव है। ये स्टूल वाले मंत्री हैं, इन्होंने आपको धोखा दिया है। आपके यहां चौड़ी सड़क भी नहीं बनाई, ये कमाल के मंत्री थे।
Akhilesh yadav ने कहा, मैंने सुना था कि एक बार स्टूल वाले मंत्री भूल गए कि वो स्टूल वाले मंत्री है। उन्होंने मुख्यमंत्री के कमरे में अपनी तख्ती लगा ली। डीजीपी की बैठक भी कर ली। मुख्यमंत्री को जब पता चल तब उन्होंने तख्ती और कुर्सी दोनों फेंक दी।
उन्होंने अमित शाह के एक बयान पर टिप्पणी करते हुए कहा कि, गनीमत है की उन्होंने ऐसा नहीं कहा कि इंटर के बाद 10 वीं पास करने वालों को लैपटॉप देंगे। इनका 12 वीं के बाद इंटर वाला बयान सुनकर लोग लोटपोट हो रहे हैं। मुझे नहीं लगता कि ये स्टूल वाले मंत्री भी लैपटॉप चला पाते होंगे।
अखिलेश यादव आगे बोले, सपा गठबंधन ने सिराथू में यहां की बहू को उतारा है
पल्लवी पटेल जी अपने चुनाव चिन्ह पर भी चुनाव लड़ सकती थीं। लेकिन हमने ही इनसे कहा कि आप साइकिल सिंबल पर लड़िए। सपा सरकार में यहां का विकास करेंगे।
अखिलेश आगे बोले, यहां के स्टूल मंत्री ने वसूली से अपने करियर की शुरुआत की, काहे कि वसूली करते थे। ये भी बताना पड़ेगा क्या?
स्टूल मंत्री जो यहां के बेटा बनकर गए थे। इन्होंने झूठ, धोखा और लूट करने का काम किया। इन्हें सबक सिखाओगे कि नहीं?

Leave a Reply

Your email address will not be published.