डाक विभाग ने मनाया ‘विश्व पर्यावरण दिवस’, पोस्टमास्टर जनरल केके यादव ने डाककर्मियों से की पौधा लगाने की अपील

उत्तर प्रदेश समाचार

न्यूज स्टैंड18 नेटवर्क
वाराणसी।
पर्यावरण संरक्षण के लिए पौधारोपण बेहद जरुरी है। पेड़-पौधे न सिर्फ हमारे पर्यावरण को शुद्ध करते हैं, बल्कि जीवन के लिए उपयोगी प्राणवायु भी उपलब्ध कराते हैं। कोरोना महामारी ने भी यही चेताया है कि पर्यावरण से खिलवाड़ घातक है। ऐसे में सम्पूर्ण धरा और प्रकृति को सुरक्षित व संतुलित रखने हेतु हमें पर्यावरण के प्रति लोगों को सजग बनाना होगा। उक्त उद्गार वाराणसी परिक्षेत्र के पोस्टमास्टर जनरल श्री कृष्ण कुमार यादव ने ‘विश्व पर्यावरण दिवस’ पर डाक विभाग द्वारा आयोजित पौधारोपण अभियान का शुभारंभ करते हुए कहीं। पोस्टल कॉलोनी, वाराणसी कैम्पस में उन्होंने प्रवर डाक अधीक्षक श्री राजन राव संग पौधारोपण करते हुए पर्यावरण में बढ़ रहे प्रदूषण और उसके चलते पैदा हो रही विसंगतियों की ओर ध्यान आकर्षित करके हर डाककर्मी से पौधारोपण द्वारा उनके निवारण में भागीदार बनने का भी आह्वान किया। इस अवसर पर डाक विभाग के तमाम अधिकारियों – कर्मचारियों ने भी पौधारोपण कर पर्यावरण संरक्षण का संदेश दिया।

पोस्टमास्टर जनरल श्री कृष्ण कुमार यादव ने कहा कि, डाक विभाग सदैव से सामाजिक सरोकारों से जुड़ा हुआ है। पर्यावरण को स्वच्छ रखने और इसके प्रति लोगों को जागरूक करने हेतु समय-समय पर तमाम पहल की गई हैं। पर्यावरण संरक्षण को अपने जीवन का अभिन्न अंग बनाते हुए अपनी जीवन पद्धति और दिनचर्या से जोड़ने की जरुरत है। पर्यावरण संरक्षण को जीवन का आधारभूत तत्त्व मानकर ही हम पर्यावरण प्रदूषण जैसी समस्याओं से मुक्ति की संभावनाएं खोज सकते हैं।

वाराणसी पूर्वी मंडल के प्रवर डाकघर अधीक्षक श्री राजन राव ने कहा कि, हमारी परंपरा में एक वृक्ष को दस संतानों के समान माना गया है क्योंकि वृक्ष पीढ़ियों तक हमारी सेवा करते हैं। ऐसे में हर व्यक्ति की यह जिम्मेदारी है कि वह एक पौधा अवश्य लगाए।

इस अवसर पर वाराणसी पश्चिमी मंडल के अधीक्षक डाकघर पीसी तिवारी, सीनियर पोस्टमास्टर सी.एस बरुआ, सहायक निदेशक ब्रजेश शर्मा, सहायक डाक अधीक्षक अजय कुमार, निरीक्षक सर्वेश सिंह, श्रीकांत पाल, वीएन द्विवेदी, कैण्ट प्रधान डाकघर पोस्टमास्टर रमाशंकर वर्मा, राजेंद्र यादव, श्री प्रकाश गुप्ता, मंजू कुमार, अंकिता, विश्वनाथ सहित तमाम अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.