महाराष्ट्र का राज्यगीत बनेगा यह गीत…

मुंबई

मुंबई। महाराष्ट्र को जल्द ही राज्यगीत मिलने वाला है और इसके लिए सभी की जुबान पर एक जाना-माना गाना फाइनल हो गया है। यह भी सामने आया है कि मूल गीत की लंबाई अधिक होने के कारण इस गीत के पहले के दो छंद ही लिए गए हैं और इसे राज्य गीत का दर्जा देने के लिए सहमति बन गई है। इसकी घोषणा राज्य के कैबिनेट मंत्री सुधीर मुनगंटीवार ने की है।
पता चला है कि ‘गरजा महाराष्ट्र माझा’ गाने को महाराष्ट्र के राज्य गान के लिए चुना गया है। सुधीर मुनगंटीवार ने इस संबंध में एक अहम ऐलान किया है और उन्होंने मीडिया को जानकारी दी है कि इस गाने से दो कड़ी ली जाएगी। इस गाने के बोल में एनर्जी है।

गीत अपने मूल मराठी स्वरूप में इस प्रकार है

जय जय महाराष्ट्र माझा, गर्जा महाराष्ट्र माझा
रेवा वरदा, कृष्ण कोयना, भद्रा गोदावरी
एकपणाचे भरती पाणी मातीच्या घागरी
भीमथडीच्या तट्टांना या यमुनेचे पाणी पाजा
जय जय महाराष्ट्र माझा…
भीती न आम्हा तुझी मुळी ही गडगडणाऱ्या नभा
अस्मानाच्या सुलतानीला जवाब देती जीभा
सह्याद्रीचा सिंह गर्जतो, शिवशंभू राजा
दरीदरीतून नाद गुंजला महाराष्ट्र माझा
जय जय महाराष्ट्र माझा…
काळ्या छातीवरी कोरली अभिमानाची लेणी
पोलादी मनगटे खेळती खेळ जीवघेणी
दारिद्र्याच्या उन्हात शिजला, निढळाच्या घामाने भिजला
देशगौरवासाठी झिजला
दिल्लीचेही तख्त राखितो महाराष्ट्र माझा..
जय जय महाराष्ट्र माझा…

Leave a Reply

Your email address will not be published.