UP Assembly Election 2022: सत्ता के ख्याली पुलाव पका रहे अखिलेश यादव

फीचर

विजय यादव
उत्तर प्रदेश की सत्ता पर दुबारा काबिज होने के लिए इन दिनों अखिलेश यादव ख्वाबी पुलाव पका रहे हैं। रविवार को बसपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष आरएस कुशवाहा, राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद के प्रदेश अध्यक्ष इंजीनियर हरिकिशोर तिवारी व पूर्व सांसद कादिर राणा व उनके समर्थकों को समाजवादी पार्टी में शामिल कराने के बाद उन्होंने पत्रकारों से कहा कि, 2022 के विधानसभा चुनाव में 300 से अधिक सीटें जीतने का कार्य पूरा हो गया है। भाजपा अपने 150 से अधिक विधायकों का टिकट काट रही है। अखिलेश यादव को राजनीति का नया शेखचिल्ली कहा जा सकता है।
इन्हे यह नहीं पता कि भाजपा जिन 150 विधायकों का टिकट काटने पर विचार कर रही है, दरअसल उनकी क्षेत्र म छवि खराब है। वे जनता की उम्मीदों पर खरे नहीं उतरे। ऐसे नकारा लोगों को सपा अपने टिकट से चुनाव में उतारकर क्या उन्हे चुनाव जीता पाएगी? नाराज लोगों को टिकट वही दल देता है, जिसके पास वहां कोई काबिल उम्मीदवार नहीं होता। इस राजनीतिक रेसिपी का उपयोग बहुजन समाजवादी पार्टी बहुत पहले कर चुकी है और परिणाम कुछ खास नहीं रहा। किसी दुकान का रिजेक्ट माल बाज़ार मे बेचना कठिन ही नही बहुत मुश्किल कार्य है। शायद अखिलेश यादव यही करने जा रहे हैं।
अगर अखिलेश अभी से यह विचार बना लिए हैं कि भाजपा से हकाले गए लोगों को टिकट देंगे, तो उनका क्या होगा जो आज इस कठिन परिस्थिति मे सपा के साथ खड़ा है? क्या उसकी बनाई जमीन पर कोई और बुआई करेगा? इस तरह सपा अपने डेढ़ सौ कर्मठ कार्यकर्ताओं के पीठ में छुरा घोपने का काम करेगी। क्या ऐसी स्थिति में सपा का वह नाराज कार्यकर्ता पार्टी विरोधी अभियान नहीं चलाएगा? ऐसे कई सवाल है जिसका जवाब अखिलेश क्या उनके सलाहकार भी नहीं दे सकते।
अगर सपा को यह लगता है कि वोटर उनके जाल में फस जाएगा, तो उन्हे यह भ्रम दिमाग से निकाल देना चाहिए। हां यहां एक बात जरूर बताता चलूं कि अखिलेश यादव मे किसी कर्मठ कार्यकर्ता के भरोसे को तोड़कर दूसरे को टिकट देने की पुरानी कला है। इसका एक उदाहरण जौनपुर का मुंगराबादशाहपुर सीट है, जहां लंबे समय उम्मीद मे पार्टी की सेवा कर रहे राजेंद्र बहादुर यादव का टिकट काटकर सपा ने अपना दल से लौटे एक नेता को उम्मीदवार बना दिया था, नतीजा वहां बसपा जीत गई। यही हाल आगामी चुनाव मे भी होगा और यह वातानुकूलित कमरे के भीतर बैठकर ख्याली पुलाव पकाते रह जाएंगे।
( यह लेख आपको कैसा लगा ? नीचे दिए कमेंट बॉक्स में जाकर अपनी प्रतिक्रिया जरूर दें। आप News Stand18 को यूटयूब और फेसबुक पर भी फॉलो करें। newsstand18@gmail.com )

Leave a Reply

Your email address will not be published.